Ambala Cantt (HR)- Social Wing Program to Celebrate 143rd Birth Anniversary of Prajapita Brahma

अंबाला कैंट दयाल बाग सेवाकेन्द्र पर ब्रह्मा बाबा की 143वीं जयंती के उपलक्ष समाजसेवी संस्थाओं का स्नेह मिलन कार्यक्रम
आज समाज में दुख अशांति का कारण कहीं ना कहीं अध्यात्मिकता से विमुख होना है। अनेकों समाज सेवी संस्थाएं समाज हित में कार्यरत हैं परंतु फिर भी आज चारों ओर सभी परेशान हैं। इस हिंसक वृत्ति के पीछे खानपान और अशुद्ध भोजन है। आज कल कई लोग शुद्ध वैष्णव भोजन को भूल मांसाहारी हो चुके है। जिस भोजन का आधार हिंसा हो तो उसे ग्रहण कर किसी की वृती हिंसक होना स्वाभाविक है। उक्त उद्बोधन कार्यक्रम के मुख्य वक्ता भ्राता अमीर चंद, डायरेक्टर, ब्रहमाकुमारीज पंजाब जोन , डायरेक्टर  ब्रहमाकुमारीज सोनीपत रिट्रीट सेंटर, वाइस चेयरपर्सन समाज सेवा प्रभाग ब्रह्माकुमारीज, माउंट आबूराजस्थान ने ब्रह्माकुमारीज अम्बाला  द्वारा आयोजित  संस्था के संस्थापक एवम् प्रजापिता ब्रह्मा बाबा की 143वीं जयंती के उपलक्ष समाजसेवी संस्थाओं के स्नेह मिलन कार्यक्रम में  व्यक्त   किए।
 
महामंडलेश्वर मोहड़ा धाम पीठाधीश्वर श्री विकास दास जी महाराज, हरियाणा सरकार धर्मगुरु, कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे।अपने वक्तव्य में उन्होंने कहा कि आत्मा से परमात्मा का सम्बन्ध करवाने के लिए ब्रह्मकुमारीज द्वारा करवाया जा रहे राजयोग के अभ्यास से उस परमात्मा की प्राप्ति हो सकती है। आप बिल्कुल सही जगह बैठे है और पवित्र आत्माओं के बीच  बैठे हैं। जो बातें मैंने ब्रह्माकुमारीज़ के बारे में सुनी थीं आज यहाँ आकर उन्हें सत्य पाया | उन्होंने सभी भाई बहनों को कार्यक्रम के आयोजन की बधाई दी |
 
कार्यक्रम में वशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित अशोक जैन व एडवोकेट उमरीश गांधी, प्रधान, श्री सनातन धर्म सभा अंबाला शहर एवं पूर्व प्रधान जिला बार एसोसिएशन ने भी अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की ।
 
ब्रह्माकुमारी आश्रम की  संचालिका  ब्रह्माकुमारी कृष्णा बहन बताया कि आज संस्था  के संस्थापक  दादा लेखराज जिन्हें बाद में  प्रजापिता ब्रह्मा बाबा  के नाम से जाना गया, की 143वीं जयंती के उपलक्ष में  शहर की सभी समाज सेवी व धार्मिक संस्थाओं को आश्रम द्वारा उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया । उन्होंने कहा कि आज समाज में व्यक्ति का स्तर किस प्रकार गिरता जा रहा है और इसके लिए हमें क्या प्रयास करने चाहिए ताकि हम एक अच्छा जीवन जी सके ।  
 
भारत सरकार ने 7 मार्च 1994 के दिन भारतीय डाक टिकट प्रजापिता ब्रह्मा के नाम पर जारी किया | इस डाक टिकट को 1 मिलियन से भी ज्यादा लोगों ने खरीदा वह उनका सम्मान था जिन्होंने निस्वार्थ भाव से मानवता तथा नारी उत्थान के लिए अपना जीवन समर्पण किया उन्होंने सभी को समाज में जीने की प्रेरणा प्रदान की उन्हें मानसिक रूप से शक्तिशाली बनाया तथा नैतिकता व विश्व बंधुत्व द्वारा नई दुनिया लाने का लक्ष्य बनाया।
 
सभी आये हुए अतिथियों को ईश्वरीय सौगात एवं स्मृति चिन्ह  से समान्नित किया गया |
 
यह समाज सेवी व उनकी संस्थाएं हुई सम्मानित
 
अक्षय मानवी महिला सशक्तिकरण सोसाइटी की सुनीला विग
इंटेक् के कर्नल आरडी सिंह
नेशनल अवेयरनेस फोरम के बीडी थापर
एक्स एयर वॉरियर्स एसोसिएशन के के पी सिंह
विश्वकर्मा मंदिर सभा के हरिओम धीमान
लायंस क्लब के नरेंद्र राणा 
मां की पाठशाला के प्रोफेसर एसपी शर्मा
विकलांग संस्था राम बाघ रोड के वी के शर्मा
बी टू एल के पंकज चौधरी
देव एसोसिएशन के सत्येंद्र सिंह सोनी
जानू इतना स्मार्ट हाउसिंग वेलफेयर सोसाइटी अंबाला सिटी के टीका राम एवं एसपी कश्यप
सिंह ब्रदर्स के कंवलजीत सिंह 
प्रयास सोसाइटी के मनजीत गोयल
ब्राह्मण समाज ।।